Tuesday, September 29, 2015

कृष्णा अग्निहोत्री "राही रैंकिंग-2015-हिंदी के 100 बड़े वर्तमान रचनाकारों में"

 कृष्णा अग्निहोत्री को हिंदी के 100 बड़े वर्तमान रचनाकारों की "राही रैंकिंग-2015" में सम्मिलित किया गया है।उन्हें 32 वां क्रमांक दिया गया है।     

Wednesday, September 23, 2015

"राही रैंकिंग-2015" हिंदी के वर्तमान 100 बड़े रचनाकारों की सूची ध्यान से देखिये और चुनिए 3 नाम

   आसमान में उड़ती पतंगों की तरह साहित्यकारों की लोकप्रियता भी स्थायी नहीं है।  कुछ गिने-चुने कलमकार अवश्य साहित्याकाश पर अपनी लेखनी के कालजयी हस्ताक्षर कर जाते हैं, जो किसी के मिटाये नहीं मिटते।
लेकिन हम बात कर रहे हैं "वर्तमान"रचनाकारों की।  वो रचनाकार जो अभी उत्तुंग शिखरों की चढ़ाई में निमग्न हैं, जो अभी सागर की अतल गहराइयों में दुर्लभ खोज की आस में गोते लगा रहे हैं,वो सर्जक जिनके और अच्छे दिन भविष्य के गर्भ में हैं।
लेकिन यदि इस सूची में अपनी जगह बनाने कोई और आएगा तो निश्चित ही वह किसी को हटा कर आएगा।
हमारे अनुसन्धान दल की हथेली पर ऐसे तीन नाम उभर कर आये हैं।
१. महीप सिंह,२. कृष्णा अग्निहोत्री,३. कुसुम अंसल
अब आप बताइये कि क्या आप इन नामों से सहमत हैं?
यदि हाँ, तो इनके लिए सूची में जगह बनाइये। केवल १,२,३, लिखकर उनके आगे वे ३ नंबर लिख दीजिये, जिनकी जगह आप इन्हें मानते हैं। आप तीनों, दो या एक के लिए भी ऐसा कर सकते हैं।         

Tuesday, September 22, 2015

राही रैंकिंग 2015 -"हिंदी के वर्तमान 100 बड़े रचनाकार-रामदरश मिश्र"

हिंदी के सुप्रसिद्ध रचनाकार बालशौरि रेड्डी का पिछले दिनों निधन हो गया।  हम उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि देते हैं।
हमारे अध्ययन दल के पास उपलब्ध अद्यतन जानकारी के अनुसार रामदरश मिश्र का नाम "हिंदी के वर्तमान 100 बड़े रचनाकारों की "राही रैंकिंग-2015"में सम्मिलित किया गया है।     

सेज गगन में चाँद की [24]

कुछ झिझकती सकुचाती धरा कोठरी में दबे पाँव घूम कर यहाँ-वहां रखे सामान को देखने लगी। उसकी नज़र सोते हुए नीलाम्बर पर ठहर नहीं पा रही थी। उसके ...

Lokpriy ...